पीएम स्वनिधि योजना: नया व्यवसाय शुरू करने के लिए सरकार की और से मिलेंगे 10 हजार रुपए, जानिए कैसे

पीएम स्वनिधि योजना ( आधारिक वेबसाइट, लाभार्थी, आवेदन फॉर्म, लाभ, सूची, स्टेटस, दस्तावेज, ऑनलाइन पोर्टल, रजिस्ट्रेशन, अप्लाई, पात्रता, टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर, आखरी तारीख, लोन )PM SVANidhi Yojana 2022 ( loan, amount, official website, beneficiaries, registration form, benefits, list, status, documents, online portal, how to apply, eligibility, helpline number, last date ) 

भारतीय सेंट्रल गवर्नमेंट के द्वारा साल 2020 में 1 जून के दिन PM SVANidhi योजना को चालू किया गया था। इस योजना के अंतर्गत गवर्नमेंट ने ऐसे लोगों को फिर से अपने पैरों पर खड़ा होने के लिए तथा अपना रोजगार चालू करने के लिए ₹10,000 का लोन देने का ऐलान किया था, जो रेहड़ी पटरी वाले थे अथवा जो सड़क के किनारे सब्जी या फिर फल बेचने का काम करते थे। गवर्नमेंट ने इस योजना को कोविड-19 वायरस की वजह से बेरोजगार हो चुके रेहड़ी पटरी वालों के लिए चालू किया था।

इस योजना को प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना के नाम से भी जाना जाता है। योजना के अंतर्गत बैंक के द्वारा पात्रता रखने वाले लोगों को ₹10,000 का लोन प्राप्त होगा, जिन्हें लौटाने के लिए गवर्नमेंट 1 साल का समय देगी। अगर आप भी PM Svanidhi योजना के लिए पात्रता रखते हैं तो आप इस आर्टिकल में जानेंगे कि PM SVANidhi Yojana क्या है और PM SVANidhi Yojana के लिए अप्लाई कैसे करें।Pradhanmantri SAVNidhi Yojana

पीएम स्वनिधि योजना [PM SVANidhi Yojana 2022]

योजना का नाम:    पीएम स्वनिधि योजना।

 

किसने चालू की: केंद्र सरकार

 

डिपार्टमेंट: आवास एवं शहरी

 

आवास एवं शहरी

 

कब चालू हुई: 1 जून साल 2020

 

लाभार्थी:   रेहड़ी पटरी के लोग
उद्देश्य:     स्ट्रीट वेंडर्स को 10000 का लोन देना

 

आधिकारिक वेबसाइट:

 

https://pmsvanidhi.mohua.gov.in/

 

तकरीबन ₹10000 तक का लोन हमारे देश के ऐसे लोग प्राप्त कर सकते हैं, जो सब्जियां बेचने का काम करते हैं या फिर सड़क के किनारे फल बेचने का काम करते हैं अथवा सड़क के किनारे कोई छोटी मोटी दुकान लगाते हैं। गवर्नमेंट के द्वारा सड़क के किनारे सब्जी, फल या फिर छोटी मोटी दुकान लगाने वाले लोगों को ₹10000 का लोन SVANidhi Yojana के अंतर्गत दिए जाने का फैसला लिया गया है।

इस योजना को कोरोना काल में चालू किया था और अभी तक भारत के कई लोगों ने इस योजना के अंतर्गत अप्लाई किया और ₹10000 का लोन प्राप्त किया।

इस योजना के अंतर्गत जो लोन प्राप्त होता है, उसे लौटाने की समय सीमा गवर्नमेंट ने 1 साल रखी है, साथ ही गवर्नमेंट ने यह भी सिस्टम रखा है कि अगर कोई व्यक्ति समय पर लोन को चुका देता है, तो उसे 7 परसेंट का वार्षिक ब्याज सब्सिडी के तौर पर उसके बैंक अकाउंट में गवर्नमेंट की ओर से दिया जाएगा।

हमारे देश के ऐसे व्यक्ति जो इस योजना के लिए पात्रता रखते हैं और योजना का बेनिफिट उठाना चाहते हैं, वह इस योजना के लिए अप्लाई कर सकते हैं। स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि योजना के अंतर्गत इंडिया के अलग-अलग इलाके में रहने वाले रेहडी वाले, फल वाले और सब्जी वाले समेत 50 लाख से भी अधिक लोगों को योजना के अंतर्गत बेनिफिट दिया जाएगा।

 पीएम स्वनिधि योजना का उद्देश्य

कोविड-19 की वजह से इंडिया में कई लोगों का रोजगार प्रभावित हुआ था। कई लोगों की नौकरी चली गई थी, साथ ही लोगों के बीच लगातार इंफेक्शन भी फैल रहा था। इसी सिचुएशन को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा भारत देश में 30 जून तक लॉकडाउन लगाने की घोषणा की गई थी, जिसका सबसे ज्यादा बुरा प्रभाव सड़क के किनारे फल सब्जी बेचने वाले लोगों पर साथ ही सड़क के किनारे ठेला लगाने वाले लोगों पर पड़ा था।

इस लोक डाउन की वजह से उन्हें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा था। इसी प्रॉब्लम को देखते हुए सेंट्रल गवर्नमेंट के द्वारा इस योजना को चालू किया गया है, ताकि वह योजना के अंतर्गत अप्लाई करके ₹10000 का लोन प्राप्त कर सके और फिर से अपने काम को स्टार्ट कर सकें। इस योजना के उद्देश्य में रेहड़ी पटरी वालों को सशक्त बनाना, आत्मनिर्भर बनाना और उन्हें सस्ती ब्याज दरों पर लोन देना शामिल है।

पीएम स्वनिधि योजना के लाभ/विशेषताएं

  • सड़क के किनारे लारी खड़ी करके धंधा करने वाले लोगों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • इस योजना में ऐसे भी लोगों को लाभार्थी बनाया जाएगा जो शहरी या फिर ग्रामीण इलाके के आसपास सड़क पर माल बेचने का काम करते हैं।
  • योजना के अंतर्गत स्ट्रीट वेंडर को तकरीबन ₹10000 तक का लोन प्राप्त हो सकेगा।
  • ₹10000 के लोन को चुकाने के लिए गवर्नमेंट के द्वारा लोन लेने वाले व्यक्ति को 1 साल का समय दिया जाएगा।
  • गवर्नमेंट का अंदाज है कि इस योजना का लाभ 5000000 से भी अधिक लोग उठाएं।
  • जिस स्ट्रीट वेंडर के द्वारा योजना के अंतर्गत लिए गए लोन को समय पर चुकाया जाएगा, उस स्ट्रीट वेंडर को 7 परसेंट का वार्षिक ब्याज सब्सिडी के तौर पर उसके बैंक अकाउंट में गवर्नमेंट देगी।
  • गवर्नमेंट की तरफ से इस योजना में किसी भी प्रकार की पेनल्टी का प्रावधान नहीं किया गया है।
  • योजना का लाभार्थी बनने के लिए व्यक्ति ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही प्रकार से अप्लाई कर सकता है।
  • गवर्नमेंट योजना को इसलिए चालू कर रही है ताकि रेहड़ी पटरी वाले फिर से अपना धंधा चालू कर सकें और अपनी स्थिति में सुधार ला सके।
  • योजना के अंतर्गत प्राप्त होने वाला लोन 7 परसेंट पर होगा।

पीएम स्वनिधि योजना हेतु पात्रता [Eligibility]

  • भारतीय व्यक्ति योजना के लिए पात्र हैं।
  • ऐसे स्ट्रीट वेंडर योजना के लिए पात्र हैं जिनके पास वेंडर का सर्टिफिकेट है अथवा जिनके पास वेंडिंग का आइडेंटी कार्ड मौजूद है।
  • सड़क किनारे सब्जी बेचने वाले व्यक्ति योजना के लिए पात्र है।
  • सड़क किनारे माल बेचने वाले व्यक्ति या फिर फल बेचने वाले व्यक्ति भी योजना के लिए पात्र हैं।

पीएम स्वनिधि योजना हेतु दस्तावेज [Documents]

  • आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  • वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

पीएम स्वनिधि योजना में आवेदन की प्रक्रिया [PM SAVNidhi Yojana Registration]

1: नीचे आपको योजना से संबंधित ऑफिशियल वेबसाइट का लिंक दिया गया है। नीचे दिए हुए लिंक पर क्लिक करके आपको योजना की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर चले जाना है।

विजिट वेबसाइट:https://pmsvanidhi.mohua.gov.in/

2: होम पेज पर पहुंचाने के पश्चात आपको planning to apply for loan वाला ऑप्शन दिखाई देगा। आपको इस PLANNING TO APPLY FOR LOAN वाले सेक्शन के सभी 3 STEP को ध्यान पूर्वक पढ़ना है और उसके बाद आगे बढ़ जाना है।

3: आगे बढ़ने पर आपको VIEW MORE वाला ऑप्शन दिखाई देगा, आपको इसी ऑप्शन पर क्लिक करना है।

4: अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन हो करके आएगा, जहां पर आपको VIEW/DOWNLOAD FORM वाला ऑप्शन दिखाई देगा, आपको इस ऑप्शन के ऊपर क्लिक करना है।

5: अब आपकी स्क्रीन पर योजना का फॉर्म पीडीएफ फॉर्मेट में ओपन हो करके आ जाएगा।

6: अब आपको योजना का फॉर्म डाउनलोड कर लेना है और इसका प्रिंट आउट निकाल देना प्रिंट आउट निकालने के पश्चात फार्म के अंदर जो भी जानकारी मांगी गई है आपको उन सभी जानकारियों को भरना है और उसके बाद आपको आवश्यक दस्तावेज को भी अटैच कर देना

7: अब आपको इस एप्लीकेशन फॉर्म को ले जाकर के संबंधित संस्थान में जमा कर देना है। संस्थान के द्वारा आपके एप्लीकेशन फॉर्म की जांच की जाएगी और सब कुछ सही पाए जाने पर आपको योजना का लाभार्थी बनाया जाएगा और ₹10000 का लोन दिया जाएगा।

पीएम स्वनिधि योजना का हेल्पलाइन नंबर [PM SAVNidhi Yojana Helpline Number]

ऐसे व्यक्ति जो योजना के बारे में और जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं या फिर उन्हें अप्लाई करने में किसी भी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है, वह कांटेक्ट नंबर पर संपर्क स्थापित कर सकते हैं।

इसके लिए उन्हें योजना की ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर जाना है। होम पेज पर पहुंचने के पश्चात उन्हें कांटेक्ट वाला ऑप्शन ढूंढना है और उस पर क्लिक कर देना है। ऐसा करने पर उनकी स्क्रीन पर अगला पेज ओपन हो करके आएगा, जिसमें वह अपनी बात को लिख करके उसे योजना से संबंधित अधिकारी के पास सेंड कर सकते हैं।

FAQ:

Q: पीएम स्वनिधि योजना का दूसरा नाम क्या है?

ANS: प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि योजना

Q: पीएम स्वनिधि योजना के तहत कितने रुपए का लोन मिलता है?

ANS: 10,000

Q: पीएम स्वनिधि योजना में कौन अप्लाई कर सकता है?

ANS: रेहड़ी-पटरी वाले

Q: पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत लिए गए लोन को चुकाने का समय क्या है?

ANS: 1 साल

Leave a Comment