[Form] Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana Bihar in Hindi [Minority Girls]

 

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना बिहार 2018-19 (Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana Bihar in Hindi For Minority Girls)[Application Form PDF Download, Eligibility Criteria] [Kishori Swasthya Yojna, Bicycle Scheme, Financial Criteria] Official Website@ gov.bih.nic.in

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कुछ समय पहले कैबिनेट की बैठक का आयोजन किया था. इस बैठक को उन्होंने महिला, समाज एवं शिक्षा सशक्तिकरण और महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने जैसे उद्देश्यों को बढ़ावा देने के लिए आयोजित किया गया था. इस बैठक का आयोजन अप्रैल 2018 में हुआ था. इसमें मुख्यमंत्री द्वारा कुछ महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये. इनमें से महिलाओं के विकास के लिए बिहार सरकार द्वारा एक योजना की भी शुरुआत की गई.    

क्र. म. योजना की जानकारी बिंदु (Scheme Information Points) योजना की जानकारी (Scheme Information)
1. योजना का नाम मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना
2. योजना की शुरुआत अप्रैल 2018
3. योजना की घोषणा अंजनी कुमार (प्रमुख शासन सचिव)
4. योजना के लाभार्थी बिहार की लड़कियां
5. संबंधित विभाग शिक्षा, स्वास्थ्य एवं समाज कल्याण विभाग

योजना की विशेषताएं 

  • उद्देश्य :- इस योजना में प्रोत्साहन देने का राज्य सरकार का सबसे बड़ा उद्देश्य राज्य के अंदर से बाल विवाह की संभावनाओं को खत्म करना है. यदि कोई लड़की अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के पहले ही शादी करने का फैसला ले रही है, तो वे 10,000 रूपये का प्रोत्साहन पाने के लिए हकदार नहीं होंगी.
  • लाभार्थी :- इस योजना के स्टेटमेंट में यह स्पष्ट किया गया है कि यह नई योजना राज्य के भीतर 1.60 करोड़ से अधिक बालिकाओं को शुरुआती आधार पर लाभान्वित करेगी. इस योजना को और अधिक सफल बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक कन्या के लिए 54,100 रूपये का बजट पेश किया जायेगा.
  • इस 54,100 की राशि को वार्षिक आधार पर कन्याओं की पढ़ाई और अन्य लाभों के लिए खर्च किया जायेगा. इस योजना में छात्रों के क्रेडिट कार्ड की सुविधा, मुफ्त साईकिल एवं छात्रवृत्ति कार्यक्रम जैसे लाभ भी शामिल होंगे.
  • कन्याओं को उनकी शिक्षा एवं विकास को प्रोत्साहित करने में मदद करने के लिए सरकार द्वारा बच्ची के माता – पिता को उसके जन्म से लेकर उसके बायोमेट्रिक आधार कार्ड के सत्यापन तक के बीच प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी.
  • सरकार द्वारा यह भी घोषणा की गई है कि इस योजना के तहत 5000 रूपये की राशि लड़की के माता – पिता को दी जाएगी. बच्ची के 20 साल की आयु के होने तक सभी राशि उनके माता – पिता को ही दी जाएगी.

योजना के तहत दी जाने वाली कुल राशि की जानकारी 

क्र. म. शर्तें राशि की जानकारी पात्रता
1. बच्ची के जन्म से उसके बायोमेट्रिक आधार लिंकिंग तक कुल 5000 रूपये जिसमें

·         जन्म के समय – 2000 रूपये

·         1 साल के होने के बाद – 1000 रूपये

·         आधार कार्ड लिंक होने के बाद – 2000 रूपये

केवल 2 बच्चों के लिए
2. सेनेटरी नैपकिन के लिए 300 रूपये
3. इंटर स्कूल की परीक्षा पास करने पर 10,000 रूपये अविवाहित लड़की के लिए
4. ग्रेजुएशन पूरा होने के बाद 25,000 रूपये विवाहित – अविवाहित दोनों के लिए है
बच्ची के जन्म से लेकर ग्रेजुएशन तक दी जाने वाली कुल राशि 54,100 रूपये है

      योजना के लिए पात्रता 

  • इस योजना का लाभ किसी भी धर्म, जाति या आय एवं समाज के किसी भी धर्म से समबन्ध रखने वाली महिला या बच्ची उठा सकती है.
  • सभी कॉलेज जाने वाली लडकियाँ जिन्होंने प्राथमिक, माध्यमिक एवं हायरसेकण्ड्री स्कूल की पढाई किसी सरकारी या सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूल से की हो वे इसके लिए पात्र हैं.
  • इसके अलावा यदि कोई छात्रा मान्यता प्राप्त मदरसा, गैर – मान्यता प्राप्त कॉलेज और संस्कृत कॉलेज, राज्य या गैर राज्य स्तरीय छात्राओं और समाज में अल्पसंख्यक समुदाय से सम्बन्ध रखने वाली छात्रा इस योजना के तहत पंजीकरण करने के लिए पात्र होंगी.
  • इस योजना के लिए केवल वे लोग आवेदन कर सकते हैं जो बिहार के रहने वाले है, और साथ ही बिहार की सीमा के अंदर किसी सरकारी कॉलेज में पढ़ाई कर रहे हो.
  • इस योजना में दी जाने वाली वित्तीय सहायता केवल उन लोगों के लिए है, जो आर्थिक रूप से कमजोर तबके से सम्बन्ध रखते हो. वे सभी इसके लिए आवेदन दे सकते हैं.
  • यदि किसी परिवार में बहुत सारी लडकियाँ है, तो इस योजना का लाभ उस परिवार की केवल दो लड़कियां ही उठा सकती हैं.
  • यदि किसी आवेदक के परिवार का कोई सदस्य बिहार राज्य सरकार के तहत किसी कार्यालय में काम कर रहा है, तो वह इसके लिए आवेदन करने के पात्र नहीं होगा.
  • इसके साथ ही आवेदक का खुद के नाम से एक सक्रिय बैंक अकाउंट भी होना अनिवार्य है, ताकि वित्तीय लाभ बिना किसी परेशानी के उनके खाते में स्थानांतरित हो सके.

योजना के लिए आवेदन फॉर्म 

बिहार राज्य सरकार ने यह स्पष्ट किया है कि सभी आवेदन ऑनलाइन प्रक्रिया से ही किये जायेंगे. जल्द ही राज्य सरकार द्वारा इसकी अधिकारिक वेबसाइट को लांच किया जायेगा, जहाँ से आवेदक अपना आवेदन कर सकेंगे. साथ ही आप एक डिजिटल आवेदन फॉर्म में अपनी पहुँच बना सकेंगे.

योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज 

  • पते का प्रमाण :- सभी आवेदकों को अपने आवेदन फॉर्म के साथ अपना पते का प्रमाण देना आवश्यक है. जोकि उनके आवासीय दावे का समर्थन करता है.
  • आवेदक का वोटर आईडी :- बैकग्राउंड का सत्यापन करने के लिए पर्याप्त जानकारी देने के लिए आवेदक को अपने वोटर आईडी कार्ड की प्रति जमा करना आवश्यक है.
  • आवेदक का आधार कार्ड :- चुकी इस योजना में राशि प्राप्त करने के लिए आधार कार्ड होना बहुत जरुरी है, इसलिए आवेदकों को अपने आधार कार्ड की प्रति जमा करनी होगी.
  • खाते की जानकारी :- चुकी दी जाने वाली वित्तीय सहायता आवेदक के बैंक खाते में ट्रान्सफर की जानी है, इसलिए उन्हें अपनी बैंक खाते की जानकारी से जुड़े दस्तावेज जमा करने होंगे.
  • स्कूल का प्रमाण पत्र :- इस योजना का लाभ उन्हें प्राप्त होगा, जो अपने आवेदन फॉर्म के साथ अपने स्कूल का प्रमाण पत्र भी जमा करते हैं.
  • अंकसूची :- यदि कोई इच्छुक आवेदक 10,000 रूपये का वित्तीय ईनाम प्राप्त करना चाहता है तो उसे अपनी 10 वीं कक्षा की अंकसूची जमा करनी होगी, किन्तु यदि किसी आवेदक की 12,000 रूपये प्राप्त करने की इच्छा है तो उसे 12 वीं कक्षा की अंकसूची जमा करनी होगी.
  • फोटो :- आवेदन फॉर्म को जमा करते समय उसमें आवेदक की फोटो होना भी अनिवार्य है. इसके लिए उन्हें हालही में खिचाई हुई फोटो को फॉर्म में लगाना होगा.
  • आवेदक का आर्थिक बैकग्राउंड :- इस योजना में केवल कमजोर आर्थिक स्थिति वाले लोग ही आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए उन्हें अपना कानूनी दस्तावेज जमा करना होगा.

सेनेटरी नैपकिन के लाभ 

  • इस योजना की घोषणा में राज्य सरकार ने लड़की के किशोर आयु के होने के समय सेनेटरी नैपकिन के लिए 300 रूपये देने का भी जिक्र किया है. इस योजना के तहत इस राशि को जिसमें पहले 150 रूपये दिए जाते थे को बढ़ा कर अब 300 रूपये कर दिया है.
  • इस योजना के क्रियान्वयन का एक महत्वपूर्ण उद्देश्य यह भी है कि बाल विवाह एवं भ्रूणहत्या की जाँच करके उनकी मदद करना है. यह लड़कियों के अनुपात को लड़कों के मुकाबले बढ़ाने के लिए भी मददगार साबित होगा, और साथ ही उन्हें शिक्षा लेने के लिए भी प्रोत्साहित करेगा.
  • इसी योजना में राज्य सरकार बीमारियों के खिलाफ सभी प्रकार के टीकों एवं टीकाकरण के साथ बच्चियों के माता – पिता को भी शिक्षा देने की योजना बना रही है. यह कदम छोटी बच्चियों की मृत्यु दर को ख़त्म करने में मददगार होगा.

यूनिफार्म की दरों में वृद्धि 

  • राज्य शिक्षा मंत्रालय द्वारा पहली और दूसरी कक्षा में पढ़ाई करने वाली छात्राओं के लिए वित्तीय सहायता सालाना 400 रूपये से बढ़ाकर 600 रूपये कर दी गई है.
  • तीसरी से पांचवीं तक की कक्षाओं में पढ़ाई करने वाली छात्राओं के लिए यह वित्तीय सहायता सालाना 500 रूपये से बढ़ाकर 700 रूपये कर दी गई है.
  • इसके अलावा छटवीं से आठवीं तक की कक्षाओं वाली छात्राओं के लिए यह सालाना 700 रूपये से बढाकर 1000 रूपये कर दी गई है.
  • साथ ही 9 वीं कक्षा से लेकर 12 वीं कक्षा के बीच पढ़ाई करने वाली छात्राओं को दी जाने वाली वित्तीय सहायता के रूप में 1000 रूपये बढ़ाकर 1500 रूपये प्रदान किये जायेंगे.

राज्य सरकार ने इस योजना को यह सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया है ताकि इससे बाल विवाह, मृत्यु दर और बच्चियों के लिए एंटी समाजिक जैसे अन्य मुद्दों को ख़त्म किया जा सके. यह बच्चियों के सामाजिक स्थिति में सुधार लाने में भी मदद करेगी.  

What is the Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana in Bihar?

Bihar government has recently made several announcements related to the Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana. Under this scheme state government will eliminate female child mortality, child pregnancy by offering women empowerment to girls from an early age. Under this scheme, state authority will take over the responsibility of girls and offer financial assistance for their better upbringing. Each family will receive financial support for the girls during from birth till they finish college education. To know more about this scheme, kindly read on.

  1. What will the state government spend on every girl child?

As of now, calculation suggests that every applicant will receive Rs. 54,100 from Bihar government, for her correct overall development. This amount will be distributed from her birth till she finishes college education.

  1. How much will the family receive at the time of child?

When a female child is born in a financially backward family, then state government will offer each family with Rs. 2000.

  1. How much will the family receive after the issuance of the Child’s Aadhar card?

An amount of Rs. 1000 will be transferred to the bank account of this child when an Aadhar Card is issued in her name.

  1. How much will the state authority offer for complete immunization of the child?

Another Rs. 2000 will be transferred in the bank account once the family completes the necessary immunizations.

  1. What is the time span of this immunization?

Families must complete the set of immunity vaccines within the first two years of the female child’s birth.

  1. How much will the state offer during her admission in class one?

State government will offer Rs. 600 to the female child as soon as she takes admission in a government school. This money can be used to purchase uniform and books.

  1. How much will she receive during 3rd to 5th standard education?

She will receive another Rs. 700 when she is studying in class 3 to 5. This will allow parents to purchase a new uniform or books if the child had outgrown the older uniform.

  1. What will the state offer to girls who are studying in 6th to 8th standard?

Rs. 1000 will be offered for the same purpose when the child will study in class 6th to 8th.

  1. What will the girl receive when she is studying in 9th to 12th standard?

Bihar government will transfer an amount of Rs. 1500 into the bank accounts of each applicant when she gets admission in class 9th. This amount will fetch new uniform and supplies till 12th standard.

  1. How much will 12th passing candidates receive?

Girls who manage to pass 12th final examination with good marks will receive another Rs. 10,000 as an encouragement grant. It will offer these poor girls a chance to opt for college education.

  1. How much financial assistance will she receive after completing graduation successfully?

All those applicants who pursue their higher education and complete graduation successfully will be awarded with a financial grant of Rs. 25,000.

  1. How much money will girls receive for the bicycle?

Bihar government was offering Rs. 2500 under the bicycle scheme earlier. But now that amount has been raised to Rs. 3000.

  1. How much is the state offering under sanitary napkin scheme?

Another scheme is active in the state, called Kishori Swasthya Yojna. It is targeted towards better health, and wellness of adolescent girls. All such girls will attain Rs. 300 instead of Rs. 150 for purchasing sanitary napkins.

  1. What will be the estimated total number of beneficiaries?

It has been estimated by policy makes makers that with the implementation of this project, Bihar state authority will be offer this financial assistance to as many as 1.60 crore female applicants.

Eligibility related queries

  1. How will be able to apply for this scheme?

Only those girls that are legal residents of this state can apply and receive this assistance from state government. Apart from this, the state will only allow poor and backward families to get this grant.

  1. How many girls from every family will receive this financial support?

Bihar CM stated that only two female candidates from every household will be able to apply and receive this financial grant.

  1. What should be the status of the school?

Only those girls who study in schools, which are run and funded by the state government, will be able to apply for this financial assistance.

  1. Will girls of government employees be able to attain the benefits?

No, this scheme will not allow government employees to register the names of their female children.

  1. How will the funds be transferred?

All selected applicants will receive the financial assistance in their respective bank accounts. Thus, parents must ensure that their female wards have an account in their name.

Which documents are necessary for application?

Only girls with legal residential documents will be allowed to attain these benefits. Apart from this, they must possess their Aadhar cards, Voter cards, financially backward certificate and respective mark sheets to attain separate benefits, as per their academic standard. Apart from this, they also need to submit bank account details for smooth money transfer.

How will applicants get their enrollment form?

All female candidates will be able to enjoy this financial assistance from the state government by registering their names via online enrollment procedure. For this, one will have to log on to the online portal of Mukhyamantri Kanya Utthan Yojana.

What is the application process?

It will be possible to talk about the actual registration process only after the respective department launches the official online portal for this scheme. But chances are high that this scheme will also have portal based application. We will furnish our readers with application related info as soon as Bihar government makes an authorized statement.

Other Schemes 

  1. HP Mukhyamantri Alpsankhyak Kalyan Yojana 2018 
  2. List of All Schemes By Kerala Government 
  3. ST/SC Welfare Schemes List 2018
  4. Girls Child Schemes List 
error: Content is protected !!