दिल्ली जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास (आप फ्री कोचिंग) योजना 2019

दिल्ली जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास (आप फ्री कोचिंग) योजना 2019
5 (100%) 1 vote

दिल्ली जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना 2019 [दिल्ली AAP फ्री कोचिंग आईएस, UPSC, OBC]सेंटर लिस्ट , आवेदन (एप्लीकेशन फॉर्म पीडीऍफ़ डाउनलोड) छात्र लिस्ट, पात्रता (Eligibility Criteria) दस्तावेज सूचि

आप की फ्री (मुफ्त) कोचिंग योजना क्या हैं इसका नाम क्या हैं 

Page Contents

 दिल्ली सरकार ने हाल ही में आर्थिक रुप से कमजोर लेकिन योग्य बच्चों के लिए एक बेहतर स्थान दिलाने के लिए एक नई जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना का आरंभ किया है। इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा आर्थिक रूप से पिछड़े हुए विद्यार्थियों के लिए कोचिंग फीस की व्यवस्था करना और लड़कियों के लिए सिविल परीक्षा पास कराने के लिए मुफ्त कोचिंग उपलब्ध कराया जाएगा। सरकार द्वारा यह कदम उन विद्यार्थियों के लिए योगदान साबित होगा जो विद्यार्थी पढ़ना चाहते हैं परंतु वे आर्थिक रूप से पढ़ाई करने में सक्षम नहीं हो पाते हैं।

Delhi-Jai-Bhim-Mukhyamantri-Pratibha-Vikas-Yojana जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना का उद्देश्य –

योजना का मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से और पिछड़े हुए लोगों का पूरी तरह से विकास करना और शिक्षा की मुख्य धारा का प्रवाह और तेज करना है। उन्हें कुछ इस तरह शिक्षित किया जाएगा ताकि वे निजी व सरकारी क्षेत्र में एक उच्च पद की प्राप्ति आसानी से कर सकें। सरकार की एक ऐसी पहल जिससे अधिक पढ़ाई की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों को मेडिकल, इंजीनियरिंग, आईएएस, आईपीएस जैसी और भी कई प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त एनजीओ व निजी संस्थानों द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा।

मुफ्त कोचिंग योजना की मुख्य विशेषताएं….

गरीब मेधावी छात्रों का विकास:-

राज्य सरकार ने कुछ ऐसे विद्यार्थियों का सपना पूरा करने के लिए यह कदम उठाया है जो फीस की कमी की वजह से कोचिंग सेंटर की फीस नहीं भर पाते हैं। ऐसे गरीब पिछड़े हुए विद्यार्थियों के लिए यह योजना सरकार द्वारा एक योगदान के रूप में उभर कर आएगी।

फ्री कोचिंग की सुविधा:-

इस योजना के तहत उन विद्यार्थियों को फ्री कोचिंग की सुविधा प्रदान की जाएगी जो विद्यार्थी पढ़ाई में सक्षम है और आगे पढ़ाई करने की इच्छा रखते हैं।

पिछड़े वर्ग के लिए:-

इस योजना के पूर्ण विवरण में यह जानकारी दी गई है कि इस योजना का लाभ एसटी, एससी या ओबीसी के मेरिटोरियस छात्र भी उठा पाएंगे इसके अलावा इस योजना का लाभ विकलांग और अल्पसंख्यक लोगों को भी प्राप्त होगी।

पहले प्रयास में आर्थिक सहायता की जानकारी:-

इस योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा एक निर्धारित राशि तय की गई है। जिसके अनुसार जो विद्यार्थी इस योजना के तहत पहली बार लाभ प्राप्त करने वाले हैं उनके लिए सरकार फीस का 75% भाग छात्र को देगी जबकि 25% फीस का भाग छात्र को खुद जुटाना होगा। निर्धारित राशि के अनुसार राज्य सरकार द्वारा अधिकतम 40000 रूपए तक की राशि विद्यार्थी को प्रदान की जा सकती है।

दूसरे प्रयास के दौरान पेमेंट डिस्ट्रीब्यूशन:-

यदि विद्यार्थी कोचिंग की इस सुविधा को प्राप्त करने के लिए दूसरी बार आवेदन भर रहा है तो राज्य सरकार द्वारा उसकी कुल फीस का 50% ही भुगतान उसे दिया जाएगा। बाकी सब 50% फीस का भाग विद्यार्थी को खुद जुटाना होगा।

अतिरिक्त आर्थिक सहायता:-

विद्यार्थी के अन्य खर्चे उठाने के लिए राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत 2500 रूपए भी दिए जाएंगे।

योजना के अंतर्गत होने वाले एग्जाम:-

इस योजना में पढ़ाई के कई सारे कोर्स शामिल किए गए हैं जिनमें मेडिकल, आईआईटी, इंजीनियरिंग, यूपीएससी, रेलवे, बैंकिंग, एसएससी और कई अन्य सेक्टर भी जोड़े गए हैं।

प्री और मेन एग्जाम में असिस्टेंस:-

कुछ परीक्षाएं ऐसी होती हैं जिनमें प्री और मेन दो तरह के एग्जाम देने होते हैं। सरकार कि इस योजना के तहत विद्यार्थी की दोनों ही प्रकार के एग्जाम की तैयारी कराई जाएगी।

कुल लाभार्थियों की संख्या

राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत अधिकतम 5000 विद्यार्थियों को लाभार्थी बनने का मौका दिया है जिनमें से 4000 लाभार्थी पहले से ही रजिस्टर्ड हो चुके हैं।

जय भीम मुख्यमंत्री प्रतिभा विकास योजना में शामिल कोर्स की लिस्ट

 इस योजना के तहत संघ लोक सेवा आयोग के ग्रुप एबी और कर्मचारी चयन आयोग रेलवे नियुक्ति भर्ती बोर्ड, न्यायिक सेवा, राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित ग्रुप ए और ग्रुप बी बैंक बीमा कंपनियां और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम में अधिकारी स्तर की परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्र के अतिरिक्त आईआईटी मेडिकल कैट  जैसी प्रतियोगिताओं में दिलचस्पी रखने वाले छात्र भी शामिल किए जाएंगे।

एप्लीकेशन के लिए आवश्यक योग्यता और दस्तावेज [Eligibility Criteria And Documents]

दिल्ली का निवासी:-

यदि कोई विद्यार्थी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहता है तो उसके लिए यह अनिवार्य है कि वह राज्य का मूल निवासी होना चाहिए। साथ ही उससे पास दिल्ली सरकार द्वारा जारी किया गया राशन कार्ड होना चाहिए।

स्थाई पता:-

योजना का लाभ पाने के लिए विद्यार्थी को अपने स्थाई पते के दस्तावेज जमा कराने होंगे।

पारिवारिक आय संबंधित योग्यता:-

इस योजना के तहत यह निर्धारित किया गया है कि जिन परिवारों की आय 6 लाख से ज्यादा है वे इस योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे। जिन विद्यार्थियों के परिवार की आय दो लाख पैसे कम है उनको सरकार द्वारा इस योजना का लाभ शत प्रतिशत प्राप्त होगा। इसके प्रमाण के लिए विद्यार्थियों को अपना आय प्रमाण पत्र अवश्य जमा कराना होगा।

जाति संबंधित क्राईटेरिया:-

सरकार द्वारा इस योजना का लाभ ऐससी, एसटी, और ओबीसी विद्यार्थियों को देना निर्धारित किया गया है। जिसके तहत तुमको अपना जाति प्रमाण पत्र आवेदन करते समय अवश्य जमा कराना होगा।

आधार कार्ड:-

योजना का लाभार्थी बनने के लिए विद्यार्थी के आधार कार्ड की फोटो कॉपी भी साथ होनी चाहिए।

विद्यार्थी 10 वी और 12 वी होना चाहिए:-

जो विद्यार्थी इस योजना के तहत अप्लाई करना चाहता है उसके लिए यह आवश्यक है कि उसके दसवीं और बारहवीं में अच्छे मार्क्स होने चाहिए अन्यथा वे इस योजना के लाभार्थी नही बन पाएंगे।

दिल्ली में ही हुई हो स्कूलिंग:-

इस योजना की मुख्य विशेषता यह भी है कि इस योजना का लाभ उठाने वाले विद्यार्थी की पूर्व शिक्षा दिल्ली के ही किसी विद्यालय में पूरी हुई हो। इसके सत्यापन के लिए आपको स्कूल प्रवेश संबंधित डॉक्यूमेंट भी जमा कराने अनिवार्य है।

केवल दो प्रयास:-

जो विद्यार्थी की योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें रजिस्ट्रेशन से संबंधित सभी दस्तावेज़ जमा कराने होंगे। साथ ही विद्यार्थियों को इस बात का ध्यान रखना होगा कि 2 बार ही एनरोल कर सकते है।

कोचिंग सेंटर में रेगुलर अटेंडेंस:-

इस बात का मुख्य रुप से योजना में विवरण दिया गया है कि यदि कोई विद्यार्थी 15 दिन तक लगातार कक्षा में अनुपस्थित रहता है तो उसे योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा। नियमो के तहत उसे इस योजना से निष्काषित कर दिया जाएगा।

एप्लीकेशन फॉर्म पीडीऍफ़ डाउनलोड एवं पंजीयन प्रोसेस [Form]

  • इस योजना के रजिस्ट्रेशन के लिए अधिकारी पोर्टल तैयार की गई है जिसके उपयोग से विद्यार्थी अपना रजिस्ट्रेशन भर सकते हैं।
  • योजना के आवेदन के लिए आपको http://www.delhi.gov.in  कि ऑफिशियल साइट से एप्लीकेशन फॉर्म प्राप्त हो जाएगा।
  • आवेदन का फॉर्म डिजिटल फॉर्म में होगा इसलिए फॉर्म भरते समय किसी भी डिटेल को भरने में कोई गलती ना करें।
  • फॉर्म भरने के बाद उसमें लिखे हुए सभी आवश्यक दस्तावेज़ उसके साथ अटैच कर दे।
  • फॉर्म को सबमिट करने से पहले एक बार पूरी तरह चेक कर लें और उसके बाद ही अपना फॉर्म सबमिट करें।
  • राज्य सरकार द्वारा ऑफिशियल साइट पर ही लाभार्थियों की लिस्ट जारी की जायेगी।

इस पूरी प्रक्रिया से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल यदि आप पूछना चाहते हैं तो आप scstdepartment@gmail.com पर जा कर पूछ सकते हैं।

इसी योजना से आर्थिक रुप से पिछड़े हुए विद्यार्थी जो आगे बढ़ने की इच्छा रखते हैं और जीवन में कुछ बनना चाहते हैं उनको बहुत सहायता मिलेगी।  ऐसी विद्यार्थियों को सहायता मिलेगी जो कोचिंग की फ़ीस न भरने पाने की वजह से आगे अपनी पढ़ाई पूरी नहीं कर पाते हैं। इस योजना की सहायता के आर्थिक रूप से और सक्षम विद्यार्थी बिना किसी चिंता के अपनी पढ़ाई पूरी कर पाएंगे।

Other Links –

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *